मंगलवार, 14 सितंबर 2010

विज्ञानं और हिन्दी

विज्ञानं पढने और जानने के लिए अंगरेजी का ज्ञान होना अनिवार्य सा रहा है बड़े ही हर्ष का विषय है कि कुछ संगठनो द्वारा हिन्दी में विज्ञानं लेखन को बढ़ावा दिया जा रहा है .ऐसे सभी लोगों को मैं साधुवाद देना चाहूंगी. क्योंकि हिन्दी में विज्ञानं लेखन होने पर हमारे देश का एक बड़ा तबका इसका लाभ उठा सकेगा.आज हिन्दी दिवस है सभी हिन्दी विज्ञानं ब्लॉगर को शुभकामनाएँ.

7 टिप्‍पणियां:

  1. प्रतिभा जी, आपने सही कहा। वैज्ञानिक सोच ही हमारे सोच को स्वस्थ और सुंदर समाज दे सकती है।

    उत्तर देंहटाएं
  2. आप नियमित लिखते रहें.. मेरी शुभकामनाएँ!!

    उत्तर देंहटाएं
  3. आपका स्वागत है. हमारी शुभकामनाएं. By the way Prabha means talent.

    उत्तर देंहटाएं
  4. स्वागत है आप का प्रतिभा जी और शुभकामनाएं भी .

    उत्तर देंहटाएं
  5. हिंदी ब्लाग लेखन के लिए स्वागत और बधाई, नियमित लेखन के लिए शुभकामनाएं !!
    कृपया अन्य ब्लॉगों को भी पढें और अपनी बहुमूल्य टिप्पणियां देनें का कष्ट करें

    इसे भी पढ़कर कुछ कहे :-
    (आपने भी कभी तो जीवन में बनाये होंगे नियम ??)
    http://oshotheone.blogspot.com/2010/09/blog-post_19.html

    उत्तर देंहटाएं
  6. स्वागत है लिखते चलिये। दूसरों के चिट्ठौं पर भी टिप्पणी करें ताकि लोग आपको जाने।

    कृपया वर्ड वेरीफिकेशन हटा लें। यह न केवल मेरी उम्र के लोगों को तंग करता है पर लोगों को टिप्पणी करने से भी हतोत्साहित करता है। आप चाहें तो इसकी जगह कमेंट मॉडरेशन का विकल्प ले लें।

    उत्तर देंहटाएं